वंश चलाने के लिए दो बहनें चुद गयी-2

इस प्रेगनेंसी सेक्स कहानी में पढ़ें कि दो सगी बहनें गर्भ धारण करने के लिए मुझसे कैसे चुदी. उनका पति नाकारा था. जब मैंने उन्हें चोदा तो वो कुंवारी जैसी थी.

कहानी के पहले भाग
बड़ी बहन ने छोटी बहन को चुदवा दिया
में आपने पढ़ा कि मेरी कहानियों को पढकर एक लड़की ने मुझसे सम्पर्क किया. वो सेक्स चाहती थी.
उसने मुझे स्लीपर बस की टिकट भेज कर दिल्ली बुलाया.

बस में मेरे केबिन में उसकी सगी छोटी बहन मेरे साथ थी.
हम दोनों ने सेक्स किया.

अब आगे Pregnancy Sex Kahani:

सुबह 6 बजे बस पहुंच गई, हम दोनों बस से उतर गए.

मैंने देखा कि सामने एक लेडी पिंक साड़ी पहने हुए थी जो बहुत सेक्सी लग रही थी।
मन किया कि उसे यहीं इसी बस के अंदर ले जा कर चोद दूँ।

सोनम उतरते ही उस लेडी से गले मिली।
वो लेडी और कोई नहीं श्वेता थी।

मैं भी उसके पास जा कर खड़ा हो गया- हेल्लो श्वेता!
श्वेता- हेल्लो, मुझे पहचान गए?
मैं- हां, इतनी खूबसूरत लेडी को भला कौन नहीं पहचानेगा।
श्वेता मुस्कुराती हुई- थैंक यू, चलें?
मैं- हां ज़रूर!

श्वेता अपनी पर्सनल ऑडी ए3 कार से आयी थी.
सोनम फ्रंट सीट पर, मैं पीछे और श्वेता ड्राइविंग सीट पर थी।

श्वेता- रात कैसी रही?
सोनम- अच्छी थी।

श्वेता- सिर्फ अच्छी?
सोनम शरमाती हुई- दी आप भी ना! दी, अगर आपका यही प्लान था तो मुझे बताया क्यों नहीं?
श्वेता- मुझे लगा तुम दोनों मज़े करोगे, नहीं किए क्या?
सोनम- बहुत मज़ा आया दीदी।

श्वेता- शैलेश! मेरी बहन कैसी लगी सॉरी … मेरी सौतन आपको कैसी लगी?
मैं- आपकी तरह बहुत सुंदर है। लेकिन आप दोनों इस तरह कैसे बात कर सकती हो?

श्वेता- देखो शैलेश, जब किसी एक कि जिंदगी दूसरे की किस्मत के साथ जुड़ जाती हैं तो उसके साथ हर सुख दुःख, प्यार यहां तक की सेक्स कि बाते भी शेयर करने पड़ती है। हम दोनों यही चाहती हैं कि हम दोनों मां बनें, इसलिए हमें तुम्हारी जरूरत है।

मैं- अगर आपके पति को पता चल गया तो?
सोनम- नहीं पता चलेगा, क्योंकि वो मेरे और अपनी मां के साथ अपने मामा की बेटी की शादी के लिए लखनऊ गए थे. शादी होने के बाद मैं यहां आ गई और वो 2 दिन बाद वहीं से अमेरिका चले जाएंगे 20 दिन के लिए और सास महीने भर बाद ही आएंगी।

बात करते करते हम सब घर पहुंच गए.
बहुत ही आलीशान घर था … देखते ही मैं दंग रह गया।

2 मर्सडीज गाड़ी, 2 बीएमडब्लू कार, 1 जगुआर कार, सामने खड़ी थी.

श्वेता- बाहर खड़े हो कर क्या कर रहे हो? अंदर आओ।
मैं- कुछ नहीं, लग रहा है मैं किसी फिल्म स्टार के घर आ गया हूं.
श्वेता- हां, लेकिन इस पैसा और रुतबे का कोई मतलब नहीं, क्योंकि इस एम्पायर को संभालने वाला कोई चिराग नहीं। मेरी सारी उम्मीद तुम्हीं से जुड़ी हैं।
मैं- मैं पूरी कोशिश करूंगा।

सोनम- अंदर आओ।
मैं अंदर गया तो देखा, घर में 1 मेड को छोड़ कर कोई भी नहीं था।

श्वेता मुझे एक रूम में ले जाकर बोली- तुम फ्रेश हो जाओ, फिर मिलती हूं।

मैं 1 घंटे में नहा धोकर कपड़े पहन कर तैयार हो गया।

थोड़ी देर में श्वेता मेरे रूम में आ गई- कहीं जाना है जो इतनी जल्दी तैयार हो गए।

मैं- हाँ, सोच रहा हूं, अपने अंकल को कॉल कर लूं और उनसे मिल भी आऊं क्योंकि उन्होंने मुझे बुलाया था।

श्वेता- नहीं, तुम उनसे बात कर लो और बोल दो कि तुम लखनऊ में हो, नहीं आ सकते। अगर तुम गए तो हो सकता है तुम्हें आने ही ना दें।
मैं- ओके, मैं बात करता हूं।

मैंने अंकल को बता दिया तो अंकल मान गए।
श्वेता- थैंक यू! चलो नाश्ता कर लो चल के!
मैं- ओके!

श्वेता, सोनम और मैंने मिलकर नाश्ता किया और फिर मेड से बोल दिया- ये सब साफ करके तुम अपने घर चली जाओ, जरूरत होगी तो बुला लेंगे।

मैं और श्वेता एक ही रूम में आ गए और सोनम सोने को बोल कर चली गई।

थोड़ी देर आराम करने के बाद श्वेता मेरे पास आई, बोली- सोनम बता रही थी तुम बहुत अच्छा सेक्स करते हो.
मैं- ऐसी कोई बात नही, बस हो गया?
श्वेता- चलो फिर करके दिखाओ।

उसने अपने सारे कपड़े उतार दिए. अब वह सिर्फ ब्रा पैंटी में थी.

श्वेता को देख कर लग रहा था कि वो जिम जाती है.
उसका फिगर 34C 28 34 था, बिल्कुल टाइट बॉडी दूध की तरह गोरी, देख कर मेरा लंड टाइट होने लगा।

श्वेता मेरे पास आई मुझे किस करने लगी.
मैंने भी किस करना शुरु कर दिया.
किस करते करते मैंने श्वेता की ब्रा पैंटी उतार कर उसको पूरी नंगी कर दिया.

श्वेता ने भी मेरे सारे कपड़े उतार दिए.
अब हम दोनों नंगे थे.

हम 69 पोजिशन में आ गए.
श्वेता ने एकदम मेरे लंड को मुंह में ले लिया और चूसने लगी.

और मैं मक्खन की तरह गोरी, चिकनी चूत को चाट रहा था, बीच बीच में क्लिटरिस के दाने को छेड़ रहा था.
जिससे श्वेता ‘ आई उआ आई आई उआ उम्म्ह … अहह … हय … याह …आ’ जोर जोर से सिसकारियाँ भरने लगी, जिससे पूरा कमरा गूंज उठा।

श्वेता मेरा लंड जोर जोर से चूसती रही और अपनी चूत का पानी मेरे मुंह में झड़ कर चूत मेरे मुंह में रगड़ रही थी।

ऐसा करते करते 20 मिनट गुजर गये होंगे.

तभी श्वेता मुड़ी और बोली- जल्दी से चोद दो मुझे!
मैं- इतनी जल्दी?
श्वेता- हां, डाल दें अपना लन्ड, फाड़ डालो मेरी चूत को।

मैंने श्वेता की कमर के नीचे 2 तकिये रखे, मैं उसकी दोनों टांगों के बीच आ गया, फिर लंड को चूत के ऊपर घिसता तो कभी लंड को चूत पे पटकता.
जिससे श्वेता बिल्कुल बेकाबू होती जा रही थी।

श्वेता गिड़गिड़ाने लगी- डाल दें लंड मेरी चूत में, बुझा दे मेरी चूत की प्यास, अब बर्दाश्त नहीं हो रहा। प्लीज़ जल्दी करो!

मैंने अपना लन्ड चूत में रखा, पहले धीरे धीरे 1 इंच डाला, जैसे 1 इंच गया, मैंने जोरदार झटका लगा दिया, पूरा लंड चूत को फाड़ता हुआ अन्दर चला गया।

श्वेता इतनी जोर से चिल्लाई ‘आई उआ आई ईउआ आह्ह ह्ह’ कि उसकी आवाज सोनम के रूम में जा कर सुनाई दी.
जिससे सोनम सोते हुए उठ कर दौड़ते हुए रूम में आ गई

उसने और मैंने देखा कि श्वेता की आंखें बहुत बड़ी हो गई और उसकी आंखों से आंसू निकल रहे हैं और वो सांस रुक रुक कर ले रही थी।

मैं बहुत डर गया था और लंड निकालने ही वाला था.
पर सोनम ने ये बोल कर लंड निकालने से मना कर दिया कि दोबारा डालोगे तो और दर्द होगा।

मैं वैसे ही उसके ऊपर थोड़ी देर पड़ा रहा।

जब श्वेता थोड़ा नॉर्मल हुई तो मैं फिर से धीरे धीरे चोदने लगा।
थोड़ी देर बाद श्वेता का दर्द गायब हो गया और वो भी नीचे से अपनी चूत को ऊपर उठाने लगी और ‘उम्म्ह … अहह … हय … याह …’ सिसकारियाँ भरने लगी।

सोनम- इतनी जोर से करने की क्या जरूरत थी, दीदी की आवाज मेरे रूम तक आई। आराम से करो।

ईधर श्वेता ‘आह्ह … हहआ ईआई … उआ आह्हह आह्ह जोर से, आह्हह आह्ह …’ कह रही थी.
उसने अपनी टांगों को मेरी कमर के इर्द-गिर्द लपेट लिया.

कुछ देर बाद श्वेता एक बार फिर से झड़ गई और मुझे कहने लगी- बस करो यार, मैं झड़ गई … अब मुझे दर्द हो रहा है। जल्दी से सारा पानी मेरे चूत में भर दो।

Video: हॉट पूनम पाण्डे की नंगी चूत के दर्शन

मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ाई और जोर जोर से झटके मारने लगा.
थोड़ी देर में मैंने अपने लंड का पानी श्वेता की चूत में भर दिया और निढाल होकर उसी के ऊपर लेट गया।

हम यह सेक्स प्रेगनेंसी के लिए ही कर रहे थे.

हमने लगभग 45 मिनट तक चुदायी की। फिर हम दोनों ने लंबी नींद ली।

मैं शाम के 5 बजे उठा तो देखा कि मैं अकेला सो रहा हूं.
मेरी नजर बिस्तर पे गई तो देखा वहां बहुत सारा खून पड़ा है और मेरे लंड पे भी खून लगा है.

मैं उठ कर कपड़े पहने रूम के बाहर आ गया तो देखा सोनम सोफे पे बैठी कॉफी पी रही थी।

सोनम- नींद अच्छी आयी?
मैं- हां, श्वेता कहां है?
सोनम- दीदी मेडिसन ले कर सो रही है।
मैं- क्यों? क्या हो गया?

सोनम- तुम जिस तरह चोदते हो, किसी की भी चूत में दर्द हो जायेगा।

मैं बाहर जाने लगा तो सोनम बोली- मुझे अकेले छोड़ कर कहां जा रहे हो?
मैं- सोच रहा हूं मॉल चला जाऊं, कुछ शॉपिंग कर लूं।
सोनम- मैं भी चलती हूं।
मैं- चलो।

हम दोनों तैयार होकर निकल गए।
उसकी ऑडी कार मैं मैं चला रहा था.

सोनम फ्रंट सीट पर बैठकर मेरे लन्ड को पैंट के ऊपर से पकड़ कर दबा रही थी और साथ में रास्ता भी बता रही थी।
कुछ देर कार ड्राइव के बाद हम दोनों सेलेक्ट सिटीवॉक मॉल पहुंच गए.

मैंने कार पार्क की तो देखा सोनम मेरे लंड की तरफ देख कर मुस्कुरा रही थी.
तो मैंने अपने लंड को शांत और पैंट को सही किया।

हम दोनों जेंट्स सेक्शन में जाकर कुछ जीन्स, पैंट, शर्ट और टीशर्ट पसंद की तो सोनम मुझे चेंजिंग रूम में चेक करने के लिए भेज दिया।

मैं जीन्स और टीशर्ट पहन कर बाहर आया तो सोनम को पसंद नहीं आया।
तो सोनम मेरे चेंजिंग रूम के अंदर आ गई- इसे उतारो, दूसरा पहनो.

मैं- बाहर जाओ, कोई देखे तो क्या समझेगा।
सोनम- तुम दूसरे को छोड़ो, जैसा मैं कह रही हूं वैसा करो; इसे पहनो जल्दी।
मैं- ओके.

सोनम- बहुत हैंडसम लग रहे हो,
मैं- ओह, थैंक्स।

फिर हम लेडी सेक्शन में गए तो सोनम ने कहा- कुछ इनरवियर बिकनी सेलेक्ट कर के ले लेती हूं।

सोनम ने अपने और श्वेता के लिए ब्लू,ब्लैक, वाइट, रेड कलर की पारदर्शी बिकनी पसंद की और कुछ पार्टी वियर ड्रेस ली।
हम दोनों ने शॉपिंग की और खाना और मीठा पैक करवा करके घर जाने लगे।

तो सोनम ने कहा- बस में तुम्हें कुछ दिखा नहीं पाई थी, आज जलवे दिखती हूं।
मैं- चलो देखता हूं तुम कितना जलवा दिखाती हो।

इस तरह बात करते हुए हम घर पहुंच गए.

श्वेता सोफे पे बैठी हुई हमारा इंतजार कर रही थी।
मैं- श्वेता, आप तो उठ गई, तबीयत ठीक है आपकी?
श्वेता- हां मैं अब ठीक हूं, कहां गए थे?

सोनम- दीदी हम मॉल घूमने के लिए गए थे, तो कुछ शॉपिंग भी कर लिए। खाना भी ले आए।
श्वेता- ठीक किया, जाओ कामिनी (मेड) से बोल दो कि खाना परोस दे। तुम दोनों फ्रेश हो जाओ और खाना खाते हैं।

मैं और सोनम साथ में बोले- ठीक है।

थोड़ी देर बाद सब लोगों ने मिलकर खाना खाया और अपने अपने रूम में चले गए।
कामिनी भी चली गई थी।

1 घंटे बाद सोनम कॉल करके मुझे अपने रूम में बुलाया.
मैं गया तो मैं देखता हूं कि श्वेता भी उसके रूम में है और वो दोनों बिकनी पहने हुए है और बिकनी भी ऐसी कि चूचुक और चूत दोनों साफ साफ दिख रहे थे।
मैं दोनों को देखता ही रह गया।

श्वेता- रेड बिकनी में कैसी लगी रही हूं?
मैं- बिल्कुल दिशा पटानी की तरह।

सोनम- और मैं?
मैं- तुम ब्लू बिकनी में बिल्कुल श्रद्धा कपूर लग रही हो।

सोनम- अंदर आओ।
मैं- हम्म।

सोनम- हम दोनों बिकनी में है और तुम यहां कपड़े पहने हुए हो!
श्वेता मेरे पास आ कर मेरी टी शर्ट उतार रही थी और किस करने लगी.

तभी सोनम ने मेरे पास आकर मेरी लोअर और अंडरवीयर एक साथ उतार दी और मेरा लन्ड को मुंह में लेकर चूसने लगी।

मैं भी उत्तेजना में श्वेता के होंठ चूसते चूसते काटने लगा और लंड से सोनम के मुंह में झटके लगाने लगा।

मैंने एक हाथ श्वेता की पेंटी में डाल दिया।
श्वेता और मुझे कंट्रोल करना बहुत मुश्किल हो रहा था।

मैंने एक हाथ श्वेता के चूत के नीचे दो टांगों के बीच डाल और एक हाथ सर के पीछे लगा कर उठा लिया और श्वेता बिस्तर पर पटक दिया।
श्वेता की हवस और बढ़ गई और उसने मुझे अपनी तरफ खींच कर बांहों में भर लिया।

मैंने भी श्वेता की बिकनी निकाल कर उसको पूरी नंगी कर दिया.
सोनम बिस्तर में आकर श्वेता की चूत में उंगली डाल कर चोद रही थी और मेरा लन्ड चूस रही थी.

मैं श्वेता के होंठों को चूसने लगा और उसके बूब्स जोरों से दबा रहा था जिससे श्वेता की जोशीली सिसकारियां निकल रही थी- आह आह अहह हह स्स षश आह अहह आहह!

श्वेता- जल्दी से डालहह अह आह!
मैं- क्याआ?
श्वेता- लंड श्षश!

मैंने लंड को सोनम के मुंह से निकाल कर श्वेता की चूत में थोड़ा सा ही डाला था कि सोनम आगे लेटकर मेरा लन्ड पकड़ कर अपनी पैंटी उतारकर अपनी चूत में रगड़ने लगी।

श्वेता- रण्डी साली, ज्यादा चुदासी मत बन, मेरी चूत की प्यास बुझ जाने दे, इसके बाद तू चुद जाना!

सोनम- दीदी, मेरी चूत में खुजली बहुत हो रही है।
श्वेता गिड़गिड़ाती हुई- मुझे चुद जाने दे, मेरे ऊपर आ जा, तेरी चूत उंगली करती हूं।

सोनम उठ कर श्वेता के मुंह में बैठ गई चूत चुसवाने लगी।

इधर मैंने लंड को श्वेता की चूत में एक बार में ही डाल दिया।
श्वेता- अआह हअह आहह हस्स आराम से!

मैं धीरे धीरे चोदने में लग गया; कभी जोर से झटके मारता तो कभी धीरे!
मेरा लन्ड गर्भाशय को टक्कर मार रहा था जिससे श्वेता की जोर जोर से चीख निकल रही थी- अआह हअ हअ आहह अह।

15 मिनट की चुदाई करने में श्वेता 2 बार झड़ गई.
उधर सोनम अआह हअह अआ हहअह कर रही थी।

मैंने सोनम को अपनी तरफ खीचा तो सोनम और श्वेता की चूत आपस में मिलने लगी.

तब मैंने श्वेता की चूत से लंड निकाल सोनम की चूत में डाल दिया, झटके लगाने लगा.

पूरा रूम जोर जोर की सिसकारियां से भर गया।
कुछ ही देर की चुदाई में सोनम भी झड़ गई, मैं भी उत्तेजना में आ गया था।

मैं अपना लंड फिर श्वेता की चूत में डाल कर चोदने लगा.

श्वेता- जोरर जोर से अआहह अहअ आहह अह!

मैंने 10- 15 झटके मारे कि मैं श्वेता की चूत में गर्भाशय में टकराते हुए झड़ गया।
मैं कुछ देर श्वेता की चूत में लंड डाले पड़ा रहा।

फिर हम तीनों नंगे ही चिपक कर सो गए।

मैं 6 दिन उन्हीं के घर रहा और हम तीनों ने हर तरह से जोरदार चुदाई की … खास कर श्वेता की!
जाते टाइम सोनम और श्वेता दोनों को मुझसे बहुत लगाव हो गया था।

सोनम मुझे एक पैकेट देने लगी- तुम्हारे लिए गिफ्ट!
मैं- क्या है इसमें?
श्वेता- बाद में देख लेना।

मैंने तुंरत खोलकर देखा तो उसमें कुछ रुपए थे।
मैं मना करने लगा।
श्वेता- क्यों?
मैं-क्योंकि मेरा उसूल है अगर किसी हेल्प कर दो तो उसकी कीमत कभी ना लो।

श्वेता- ये कीमत नहीं है, ये प्यार है।
मैं- फिर प्यार को पैसों से क्यों तोल रही हो?
मैंने पैसे नहीं लिए.

वे दोनों मुझे एयरपोर्ट छोड़ने आई, जाते वक़्त दोनों रोने लगी।
हम तीनों एक दूसरे को फैमिली की तरह मानने लगे थे.

4 घंटे में मैं लखनऊ में अपने रूम में पहुंच गया।

घर जाकर मुझे बैग में कुछ पैसे दिखे तो मैंने सोनम को तुरंत कॉल किया।
सोनम- पहुंच गए?
मैं- हाँ पहुंच गया। तुमने मेरे बैग में पैसे रखे?
सोनम- मैंने नहीं, दीदी ने रखे!
मैं- क्यों?
सोनम- मुझे क्या पता?

मैंने तब कुछ नहीं कहा, मन में सोच लिया कि जब दोबारा उनसे मिलूंगा तो लौटा दूंगा.

कुछ दिन बाद सोनम का फोन आया- स्वेता रो रही है.
मैं डर गया कि कहीं कुछ गलत तो नहीं हो गयी.- क्यों क्या हो गया?
सोनम- श्वेता बहुत खुश है इसलिए!
मैं- अच्छा, किस बात की खुशी?
सोनम- उन्हीं से पूछ लो।

श्वेता- मैं प्रेगनेंट हो गई.
मैं- क्या?
श्वेता- हां, मैं कल और आज दो दो बार प्रेगा न्यूज से प्रेगनेन्सी टेस्ट कर चुकी हूं, रिजल्ट पॉजिटिव है, मैं प्रेगनेंट हो गई।
मैं- कंग्रॅचुलेशन, बधाई हो।

श्वेता- आपको भी बधाई, आप पापा बनने वाले हैं।
मैं- थैंक यू!

तभी सोनम फोन लेकर बात करने लगी।
सोनम- इस बार अपने दीदी की गोद भर दी, अगले महीने मेरी भरनी है।
मैं- ओके।
सोनम की गोद कैसे भरी अगली कहानी में!

मेरी इस प्रेगनेंसी सेक्स कहानी के बारे में सभी पाठक अपने विचार और इच्छाएँ मुझे मेल कर सकते हैं.
आपके मैसेज का इंतजार रहेगा.
मेरा मेल आईडी और हैंगआउट आईडी है
[email protected]

Video: सेक्सी कॉलेज गर्ल ने टीचर से स्कर्ट उठा के चूत मरवाई