शिमला में मेरी बीवी की गैंग बैंग चुदाई का मजा

फोरसम सेक्स कहानी मेरी बीवी की ग्रुप चुदाई की है. मेरी बीवी चुदाई की शौकीन है. मैंने उसे ग्रुप सेक्स के लिए तैयार किया और शिमला लेजाकर तीन लड़कों से एकसाथ चुदवाया.

हाय फ्रेंड्स, मेरा नाम राज है. मैं दिल्ली के पास ही रहता हूँ.

यह Foursome Sex Kahani मेरी अपनी सगी बीवी की चुदाई की है.

मेरी वाइफ मीना एक भरी हुई और बहुत ही खूबसूरत सेक्सी माल है.
उसकी बहुत मोटी मोटी चूचियां और बहुत मोटी गांड है, जिसे देख सबके लंड खड़े हो जाते हैं.

जब कभी भी वो बाजार में ठुमक कर चलती है तो सब उसकी गांड को देख कर उसको स्पर्श करते हुए निकलने की कोशिश करते हैं.
वह भी ऐसा करने का पूरा मज़ा लेती है.

जब मेरी शादी हुई थी तो मुझे लगा मेरी बीवी पहले से ही चुदाई की शौकीन है.
ऐसा मैं भी चाहता था कि मेरी बीवी सेक्स में खुली हुई सोच रखती हो.

शादी के कुछ दिनों बाद मैंने उसे मोबाइल पर ग्रुप सेक्स की फोटो और कहानियां पढ़ानी शुरू की.
उसे ग्रुप सेक्स वाली ब्लू-फिल्में बहुत पसंद आती थीं.

एक दिन चुदाई करते समय मैंने उससे पूछा कि क्या तुम्हें ग्रुप सेक्स अच्छा लगता है?
उसने थोड़ा सोचते हुए कहा- हां, मगर इंडिया में ऐसा कहां होता है.
मैं- तुम्हारे मन हो तो ऐसे ग्रुप नेट पर खोजे जा सकते हैं.

इस पर पहले तो वो मना करती रही, लेकिन कुछ दिनों में उसका मन बन गया.
दरअसल मैं उसे चुदाई की वीडियो दिखाते हुए चोदता था और उससे ग्रुप सेक्स के लिए कहता था.
वो कुछ नहीं कहती थी बस चुदाई का मजा लेकर रह जाती थी.

फिर मैंने उससे ऐसा कहना बंद कर दिया.
मैं जानना चाहता था कि वो इस बारे में क्या सोचती है.
मेरी योजना सफल हो गई.

एक दिन वो अपने आप ही बोली- क्या हुआ, तुम तो ग्रुप सेक्स करवा रहे थे?
मैंने उसे तुरंत अपनी बांहों में ले लिया और उसे नंगी करके खूब चूमा.

उसकी चूत चाटते हुए मैंने एक बार तो उसकी चूत झाड़ दी और लंड से चोदते हुए उससे कहा- हां मेरी जान. मेरा तो कब से यही इरादा है कि मैं तुम्हें दो तीन हट्टे-कट्टे लोगों से चुदते हुए देखूं. मैं जल्दी ही तुम्हारे लिए दूसरे लोगों के लंड का इंतजाम करूंगा. तुम अपनी तरफ से भी तो कुछ कहो.

वो हंस कर बोली- हां बाबा मैं रेडी हूँ … बस इतना ख्याल रखना कि वो लोग अपरिचित हों, किसी तरह का सरदर्द न हो जाए.

मैंने हामी भर दी.
मैं समझ गया था कि मेरी बीवी की चुदास भड़कने लगी है और वो गैर मर्दों के लंड लेने के लिए राजी हो गई है.

कुछ दिन बाद मुझे ऑफिस के काम से शिमला जाना था.
मैंने वाइफ से कहा- तुम भी साथ ही चली चलो.

मेरी पत्नी साथ चलने को तैयार हो गई.
हम दोनों एक वोल्वो बस में बैठे जिसमें ज़्यादातर जवान कपल्स और लड़कों के ग्रुप थे.

हमारे साथ वाली सीट पर तीन लड़के बैठे हुए थे. एक सरदार था जो जरा ज्यादा चालू लग रहा था. वह मेरी बीवी को बार बार देख कर गर्म हो रहा था.

मैंने अपनी बीवी को खुद ही सेक्सी कपड़े पहनने को बोला था. वो एकदम चिपकी हुई लैगिंग्स और टाइट टी-शर्ट पहन कर आई थी.
उसकी चूचियां, जो 40 साइज की ही थी इस कसी हुई टी-शर्ट में एकदम तनी हुई लग रही थीं.
उसने लाल लिपस्टिक लगाई हुई थी तो साली एकदम पोर्न ऐक्ट्रेस लग रही थी.

कुछ समय बाद वो सरदार हमें देखकर मुस्कुराया.
मैं भी मुस्कुरा दिया.

उसने मुझे अपनी व्हिस्की ऑफर की.
मैंने कहा- चलती बस में कैसे ले सकते हैं?

वो बोला- एक मिनट.
उसने अपने बैग में से एक कोल्डड्रिंक की छोटी बोतल निकाली.
मैं समझ गया कि ये बड़े बड़े पैग वाली बोतलें बना कर लाया है.

मैंने एक बोतल ले ली.
मेरी बीवी मुझे कोल्डड्रिंक पीते देख कर हाथ बढ़ाने लगी.

मैंने सरदार की तरफ देखा, तो उसने आंख दबा दी.
मैंने अपनी बीवी को बोतल दे दी.

वो कोल्डड्रिंक समझ कर व्हिस्की पीने लगी.

उसने कहा- बड़ा अजीब सा स्वाद है इस कोल्डड्रिंक का!
मैंने कहा- हां ये इस एरिया की अलग वाली है… पी ले.

उसने आंख बंद करके एक झटके से पूरी बोतल खाली कर दी.
सरदार ने उसी समय एक कोल्डड्रिंक की बोतल और निकाली और मुझे दे दी.

अब वो मेरी बीवी की तरफ देख कर अपने लंड को सहलाने लगा.

मैं समझ गया कि सरदार जी मेरी बीवी को चोदना चाहते हैं.
मैंने बीवी के कान में फुसफुसा कर कहा- इस सरदार का लौड़ा लोगी!

बीवी मस्त हो गई थी; उसने हामी भर दी.
अब मेरी बीवी बड़ी हसरत से सरदार की और देख रही थी.

मैंने सरदार से बात की तो पता चला कि वो लोग उसी होटल में रुकने जा रहे हैं और तीन दिन के लिए शिमला जा रहे हैं.
तो मैंने उससे दोस्ती कर ली.

तभी मेरे मन में यह प्लान आया कि सरदार अकेले से क्यों … क्यों ना इन तीनों से ही अपनी बीवी को चुदवा दिया जाए.

बस मैं अपनी योजना पर काम करने लगा.
हम लोग शिमला पहुंचे तो वे लोग मेरी बीवी से सैट हो चुके थे और तरह तरह से मेरी बीवी से मज़ाक कर रहे थे.

मैं समझ गया कि ये टीम पूरी तरह से मेरी बीवी की चुदाई के लिए तैयार हो चुकी है.
मैंने पहले से ही फोन से होटल बुक किया हुआ था.

उन लड़कों ने भी हमारे वाले होटल में मेरे साथ वाला कमरा ले लिया.

शिमला पहुंच कर हम दोनों मियां बीवी होटल में आ गए, रास्ते की थकान उतारने लगे.

मगर मुझे अपने काम की चिंता भी थी तो मैंने जल्दी से नहा कर अपने कपड़े बदले और बीवी से जल्द वापस आने की कह कर निकल गया.

मेरी बीवी ने कमरा बंद कर लिया और आराम करने लगी.

मैं ऑफिस का काम करके होटल वापस आया तो देखा कि मेरी बीवी सो रही थी.
मैंने उसे जगाया.

वो- अरे आप आ गए. मुझे नींद आ गई थी.
मैंने कहा- सोना ही था तो उन लड़कों के साथ सो जातीं.

वो हंसने लगी- तुम्हें तो ग्रुप में चुदाई की ही पड़ी रहती है. तुम्हारा तो वैसे भी लंड के नाम पर छोटा सा ठुल्लू है, कुछ तो कुछ कर ही नहीं पाते हो.
मुझे गुस्सा आ गया.
मगर आज मेरी बीवी ने अपने मन की बात कह दी थी.
एक हिसाब से वो सही भी कह रही थी.

शाम का समय हो रहा था, मैं बाहर सिगरेट पीने निकला.

बाद में बीवी के साथ नीचे रेस्टोरेंट में आ गया.
उधर वो तीनों भी बैठे थे.

मैंने दो कप कॉफ़ी आर्डर की.
मैं अपनी बीवी को लाल रंग की टाइट टी-शर्ट और ब्लैक लैगिंग्स पहना कर नीचे लाया था.

हम दोनों ने आपस में बात करते हुए कॉफ़ी पीना शुरू की.
तभी वह तीनों भी आ गए.

सरदार ने पूछा- सर, हम लोग भी यहां बैठ सकते हैं?
मैंने उन्हें मना नहीं किया.

अब हम चारों बात करने लगे.
सरदार ने मेरी बीवी से कहा- अरे भाभी जी ,कॉफ़ी क्या पीना… आपको वही वाली कोल्डड्रिंक पिलाऊं?

Video: बेटी की चिकनी चूत में काला लंड

मेरी बीवी चहकी- हां यार वो बड़ी दमदार थी … पिलाओ.
वो बोला- वो मेरी स्पेशल वाली कोल्डड्रिंक है, बाजार में नहीं मिलती है. आप कमरे में चलो … मैं वहीं पिला दूंगा.

मेरी बीवी मेरी तरफ देखने लगी.
मैंने कह दिया कि हां हां चली जाओ … मैं जरा घूम कर आता हूँ.

मेरी बात सुनकर सरदार और उसके साथियों के चेहरे पर चमक आ गई.
उधर मेरी बीवी भी मुस्कुराने लगी.

अब वो चारों कमरे में चले गए और मैं बाहर निकल कर सिगेरट पीने लगा.

कुछ देर बाद मैं कमरे में गया तो मेरी बीवी कमरे में नहीं थी.
मैंने सरदार के कमरे में दस्तक दी.
तो कुछ देर बाद एक लड़के ने दरवाजा खोल दिया.

मैंने देखा कि मेरी बीवी के होंठों की लिपस्टिक कुछ बिगड़ गई थी और वो शराब का पैग ले रही थी.
बाकी के हाथों में भी पैग थे.

सरदार ने एक पटियाला पैग बना कर मेरे हाथ में थमा दिया और बोला- लीजिए सर, आपके लिए स्पेशल वाला.
मैंने सिप करना शुरू कर दिया.

कुछ ही देर में मुझे दिमाग में आया कि नाटक करके देखता हूँ कि मेरी बीवी कैसे चुदती है.
मैंने कहा- यार, मुझे तो चढ़ गई है.

मैं उधर ही लेट गया.
मैं नशे की एक्टिंग की और बिस्तर पर लेट गया.

मेरी बीवी ने हंस कर सरदार से कहा- लो जी, आपके सर जी भी औंधे हो गए हैं.
सरदार बोला- तो अब आप भी औंधी हो जाओ.

मेरी बीवी हंसने लगी, वो बोली- आगे से करने में किस लिए औंधा होना!

ये सुनकर एक लड़के ने खड़े होकर मेरी बीवी को किस किया और उसकी चूचियां सहलाने लगा.

वो बोला- कोई बात नहीं भाभी जी, हम आगे से ही मजा ले लेंगे.

मेरी बीवी मुस्कुराती हुई बोली- ऐसे नहीं देवर जी, पहले मुझको किस तो कीजिए.

सरदार ने मेरी बीवी को खड़ी किया और उसके कपड़े उतारने लगा.
मेरी बीवी बिना कुछ विरोध किए पूरी नंगी हो गई.

मेरी बीवी का नंगा बदन दिखा, तो वह सब एकदम से गर्म हो गए और नंगे होने लगे.

सरदार मेरी बीवी को खींच कर किस करने लगा.
मेरी बीवी दो मिनट में ही गर्म हो गई.

अब वो तीनों लड़के अपने अपने कपड़े निकाल कर खड़े हो गए.
तीनों के लौड़े एक से बढ़कर एक थे लेकिन सरदार का लंड कुछ ज़्यादा ही लंबा और मोटा था.

मेरी बीवी उसके लंड को ही देख रही थी.

उनमें से एक लड़के ने मेरी बीवी को लिटाया और उसकी चूत चूसनी शुरू कर दी.
बाकी के दोनों लड़के भी मेरी बीवी के करीब आ गए.

मेरी बीवी ने सरदार का मोटा लंड अपने हाथ में ले लिया और कुछ ही पलों में उसने लंड को मुँह में ले लिया.
वो सरदार का लंड चूसने लगी.

मैं अधखुली आंखों से देख रहा था कि मेरी बीवी सरदार का पूरा लंड मुँह में ले जा रही थी और बड़े प्यार से चूस कर पूरा बाहर निकाल रही थी.

यह देख कर एक दूसरे लड़के ने मेरी बीवी को चुदाई की पोजीशन में कर दिया और उसकी चूत में लंड डालने लगा.

मेरी बीवी भी आंह आंह करती हुई चूत मरवाने का मज़ा लेने लगी.
दूसरा लौंडा मेरी बीवी की चूचियों पर लग गया और उसने ज़ोर ज़ोर से चूसते हुआ काटना शुरू कर दिया.

तीनों लड़के मेरी बीवी को कुछ न कुछ मजा दे रहे थे.
मेरी बीवी पूरी तरह से रंडी बन चुकी थी.

सबसे पहले जिस लड़के ने अपना 8 इंच लंबा और 3 इंच मोटा लंड मेरी बीवी की चूत में पेला हुआ था, उसने मेरी बीवी की टांगें अपने कंधे पर रख लीं और उसकी चूत पर ताबड़तोड़ झटके देने शुरू कर दिए.

मेरी बीवी ने अब तक मेरा लंड ही लिया था, तो वो मोटे लंड से चुदाई करवाती हुई मादक चीखें निकाल रही थी.

दस मिनट की घमासान चुदाई के बाद मेरी बीवी झड़ चुकी थी.
फिर उस लौंडे ने अपने लंड का सारा माल मेरी बीवी के मुँह में ही निकाल दिया.

मेरी बीवी ने सारा रस चूस कर खा लिया और उस लड़के का लंड चाट कर साफ़ कर दिया.

अब नीचे वाला लड़का हट गया और दूसरा आ गया.
उसने अपनी पसंदीदा पोज़िशन में मेरी बीवी की लेने की बात कही.

बीवी ने सरदार से एक पैग बनवाया और होंठों से लगा कर पूछा- कैसे लोगे?

उसने मेरी बीवी को घोड़ी बनने को कहा.
मेरी बीवी ने पैग खत्म किया और एक सिगरेट सुलगा कर घोड़ी बन गई.

उसके घोड़ी बनते ही लड़के ने पीछे से लंड लगाया और पूरी ताक़त से लंड पेल कर मेरी बीवी की चूत चोदने लगा.

दस मिनट बाद दूसरे ने भी मेरी बीवी के मुँह में माल छोड़ दिया.

मेरी बीवी को लंड चूसने का बड़ा शौक है और वह बड़े मज़े से उसका लंड चूस रही थी.
इसके बाद सरदार का नम्बर आया.

सरदार पूरा चालू था. उसने अपना मूसल चूत में ठोका और करीब आधा घंटा तक मेरी बीवी की चूत चोदता रहा.
उसने मेरी बीवी की चूत का भोसड़ा बना दिया था.

तीन तीन मर्दों से चुदने के बाद मेरी बीवी थक गई थी इसलिए कुछ देर के लिए चुदाई रोक दी गई.

आधा घंटा फिर से दारू पीने का दौर चला.
फिर चुदाई की मस्ती शुरू हो गई.

अब की बार सरदार ने सोफे पर बैठकर मेरी बीवी को अपनी गोद में ले लिया.
वो मेरी बीवी को अपनी छाती से चिपका कर बैठ गया था.
मेरी बीवी की चूचियां सरदार के सीने से रगड़ रही थीं.

सरदार ने मेरी बीवी से कहा- परजाई जी, लंड अपनी चूत में ले लो.
मेरी बीवी ने अपने हाथ से लंड अपनी चूत में ले लिया और सरदार जी चालू हो गए.

मेरी बीवी की गांड खुली हवा में लहरा रही थी.
बाजू में खड़ा एक लड़का मेरी बीवी के मुँह में लंड देकर लंड चुसवाने लगा.

तभी पीछे से एक लड़के ने अपना लंड मेरी बीवी की गांड पर रख दिया और उसी समय सरदार ने मेरी बीवी के दोनों चूतड़ फैला दिए.
पीछे वाले लौंडे के लंड मेरी बीवी की गांड में घुस गया.

मेरी बीवी चिल्लाने को हुई मगर उसके मुँह में लंड घुसा था तो वो चिल्ला ही नहीं पाई.

मेरी बीवी छटपटाने लगी.
उसने किसी तरह से मुँह से लंड निकाला और कहने लगी- नहीं, मेरी गांड में मत करो. मुझे बहुत दर्द हो रहा है. रहने दो क्या कर दिया … मर गई सालो.

करीब 2-3 मिनट बाद जब उसके लंड ने मेरी बीवी की गांड में जगह बना ली, तब वो थोड़ी सी चुप हुई.

नीचे से सरदार ज़ोर ज़ोर से झटके दे रहा था और पीछे से मेरी बीवी की गांड में लंड चल रहा था.
उस पीछे वाले ने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी.

अब तो मेरी बीवी हवा में उड़ने लगी.
उसे इतना मज़ा आ रहा था कि चुदाई का वो मस्ती से आनन्द ले रही थी.

मैं भी थोड़ी सी आंखों को खोल कर देख रहा था कि मेरी बीवी ने ऐसा आनन्द कभी नहीं उठाया था.
उसकी ऐसी बढ़िया चुदाई कभी नहीं हो पाई थी.

तीसरा लड़का मेरी बीवी के मुँह में लंड पेल कर खड़ा था और वह मेरी बीवी के मुँह को ही चोदे जा रहा था.

करीब 15 मिनट की सैंडविच चुदाई के बाद उन तीनों ने अपने अपने लंड की मलाई मेरी बीवी में मुँह में, गांड में और चूत में भर दी.

मेरी बीवी की गांड से लंड रस लाल खून के साथ बाहर निकल रहा था.
उधर चूत में से भी सरदार के वीर्य से मिक्स पानी निकल रहा था.
मुँह का माल बीवी ने खा लिया था.

इस तरह से मेरी बीवी ने शिमला में गैर मर्दों से चूत चुदवा कर फोरसम सेक्स के खूब मज़े लिए.
अगली बार मैं उसको गोवा ले जा रहा हूँ. उधर मेरा मन है कि वो किसी नीग्रो के लम्बे लंड से अपनी चूत का भोसड़ा बनवाए.

आपको मेरी फोरसम सेक्स कहानी कैसी लगी. प्लीज़ मेल से बताएं.
[email protected]

Video: गुजराती छोकरी ने घाघरा चोली उतारकर दिखाया नंगा जिस्म