बेवफा बीवी की सहेली की चूत चुदाई की कहानी

चीटिंग वाइफ Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरी बीवी जब बाहर वाले से सेक्स करने लगी तो मैंने भी एक पड़ोसन से दोस्ती करके उसे सेक्स के लिए सेट कर लिया.

दोस्तो, मेरा नाम बलराम गोयत है. मैं आर्मी में जॉब करता हूं और शादीशुदा हूं.

ये Cheating Wife Xxx Kahani तब की है, जब मैं हिसार कैंट में अपनी फैमिली के साथ रहता था और सब कुछ नॉर्मल चल रहा था.

वहां पर एक और आर्मी वाले की फैमिली रहती थी.
उस फैमिली के साथ हमारा अच्छा मेल मिलाप हो गया था.

उस परिवार में रेणु, उसका पति विकास, और एक बेटा व एक बेटी रहती थी.

विकास की पोस्टिंग असम हो गई थी तो रेणु और उसके बच्चे अकेले ही हिसार कैंट में रहने लगे थे.

मेरी बीवी का नाम प्रीति था, वो रेणु को बहन मानती थी और वे दोनों बड़ी हिलमिल कर रहती थीं.

कुछ दिन बाद मुझे मालूम हुआ कि मेरी बीवी एक पुलिस वाले के साथ सैट हो गई है.
वो खुद ही घर से बाहर जाकर उससे अपनी चूत और गांड मरवा रही थी.

जब मुझे इस चीटिंग वाइफ Xxx बात कर पता चला तो मुझे बहुत दुःख हुआ और मैं मरने के लिए तैयार हो गया था.

मेरी अपनी बीवी से भी काफी कहा सुनी हुई मगर वो बदजात एक लंड से शांत होने वाली नहीं थी.
लेकिन बाद में रेणु ने मुझे समझाया और मुझे सहारा दिया.

वो मुझे बड़े प्यार से समझाने लगी और मुझे उसका बड़ा सहयोग मिला.
मैं उसकी इज्जत करने लगा.

  गर्लफ्रैंड की माँ ने चूत चुदवायी

ऐसे ही मैं और रेणु एक दूसरे के पास आने लगे थे.

मेरी भी कुछ शारीरिक जरूरतें थीं जिसको लेकर मैं अपनी बीवी के पास नहीं जाता था.
मेरी बीवी भी कभी नहीं पिघली कि मेरे लंड को चूत का सुख दे दे.

मेरे मन में उसके प्रति नफरत भरी थी तो मैं खुद भी उसकी तरफ नहीं देखता था.
उधर वो अपनी चुदाई करवा के अपना सुख ले लेती थी और इधर मैं मुठ मारकर अपना लंड ढीला कर लिया करता था.

इस सबको सोच कर मैं रेणु की तरफ देखने लगा, मुझे उसमें कुछ उम्मीद दिखाई देने लगी.

अब मैं आपको यहां रेणु के फिगर के बारे में बता देता हूं.
उसकी चूची 38 की गांड 40 की और कमर 34 की थी.
वो काफी भरी हुई थी. उसका रंग एकदम गोरा था और चांद जैसा मुखड़ा था.

मैं अपना ज्यादा समय रेणु के साथ ही काटने लगा था.
रात को भी मैंने उसके ही घर सोना शुरू कर दिया था.
वो भी मुझे बड़े प्यार से खाना खिलाती और मेरे साथ हंस बोल कर समय बिताती.
उसकी हंसी में मुझे कुछ कुछ दिखाई देने लगा था.

वो पति पत्नी और प्रेमी प्रेमिका वाले कुछ अश्लील चुटकुले भी सुनाने लगी थी जिससे मुझे लगने लगा था कि ये भी लंड की भूखी है.

मैं उसे मजाक में हथिनी कहने लगा था, वो भी मेरी बात का बुरा नहीं मानती थी.

धीरे धीरे हम दोनों में काफी अच्छी घुटने लगी थी.

मैंने एक दिन रेणु को प्रपोज कर दिया.

रेणु का पति यहां नहीं था तो रेणु को भी लंड की जरूरत थी.
उसने मेरा प्रपोजल स्वीकार कर लिया.

हम दोनों एक दूसरे की जरूरत को पूरा करने की दिशा में आगे बढ़ गए.
अब हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे थे.
इससे हमारे बीच जल्दी ही सब कुछ खुलने लगा था.

वो मेरी तरफ वासना से देखने लगी थी और मैं भी उसे चोदने के लिए बेचैन रहने लगा था.

एक दिन मैं और रेणु उसके ऊपर वाले रूम में बैठ कर बातें कर रहे थे.
वो ठंड का मौसम था, तो हम दोनों एक ही रजाई में घुसे हुए थे.

मैं धीरे धीरे अपने पाँव से रेणु के पाँव को सहलाने लगा और रेणु गर्म होने लगी.
थोड़ी देर बाद मेरा पैर उसकी जांघों से होते हुए उसकी चूत पर आ गया और चूत को सहलाने लगा.

उसकी चूत गीली हो रही थी.
उसका पैर भी मेरे लंड को छेड़ रहा था, जिससे मेरे लंड में भी तनाव आना शुरू हो गया था.

ऐसे ही पैरों को सहलाते हुए हम दोनों बातें करते रहे.
फिर मैं रजाई के अन्दर घुस गया और उसके पैरों पर किस करते करते उसकी जांघों पर पहुंच गया.

धीरे धीरे ऊपर की ओर आते हुए उसके 38 नाप के एक चूचे को मुँह में भर लिया.
उसने उस वक्त टीशर्ट और लोअर पहना हुआ था.

मैंने उससे कहा- चढ़ जाऊं?
वो इठलाई- किस पर चढ़ना है डियर?

मैंने कहा- हाथी पर.
वो हंसी और बोली- चढ़ा तो हथिनी पर जाता है.

मैंने कहा- हथिनी कहे तो चढ़ जाऊं?
वो बोली- हथिनी तो कबसे चढ़वाने को मचल रही है.

Video: समुद्र किनारे बीच पर कार में हॉट चुदाई वीडियो

ये सुनकर मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसके पतले पतले गुलाबी होंठ चूसने लगा और वो मेरा पूरा साथ देने लगी.

दस मिनट तक होंठों की चुसाई के बाद मैंने उसकी टीशर्ट निकाल कर अलग कर दी.
उसने नीचे ब्रा नहीं पहनी हुई थी.

उसके मोटे मोटे चूचे देख कर मेरा लंड सलामी देने लगा.
मैं एक हाथ से उसकी एक चूची को मसल रहा था और दूसरी चूची को मुँह में लेकर उसके निप्पल को चूस रहा था.

वो बोली- आह जोर से पी ले … बड़ा मजा आ रहा है.
मैंने उसके दोनों मम्मों को खूब मसल मसल कर चूसे और लाल कर दिए.

मुझे उसके दूध चूसने में बहुत ज्यादा मजा आ रहा था.
मैं सब कुछ भूल गया था कि मेरी बीवी कैसे किसी पुलिस वाले से गांड और चूत मरवाती है.

वो वासना से बोली- तुम्हारी हथिनी की चूत भी लंड का इन्तजार कर रही है.

ये सुनकर मैंने उसका लोअर भी निकाल कर फैंक दिया. उसने रेड पैंटी पहनी हुई थी, जो चूत की जगह से पूरी गीली हो रही थी.

मैंने उसकी चूत को पैंटी के ऊपर से ही सहलाया तो उसकी सिसकारी निकल गई- आह आह … क्या कर रहे हो?’
मैंने कहा- हथिनी की चूत रगड़ रहा हूँ.
वो हंस कर बोली- अब जल्दी से अपना लंड पेल दो.

मैंने अपने भी कपड़े निकाल दिए और पूरा नंगा हो गया.
वो मेरा 6 इंच का लंड देख कर बहुत खुश हो गई.
उसने मेरे लंड को हाथ में पकड़ा और आगे पीछे करने लगी.

मैं बेड पर सीधा लेट गया और वो मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने चाटने लगी.
वो एक पेशवर रंडी के जैसे मेरे लंड को चूस रही थी; पूरा लंड गले तक लेकर जाती, फिर बाहर निकाल कर लंड के टोपे कर बाहर अपनी जीभ से गोल गोल करके चूसने लगती.

कुछ 15 मिनट तक वो मेरे लंड को चूसती रही और मैं आंखें बंद करके अपने लंड की चुसाई का मजा लेता रहा.
साथ ही मैं उसकी चूचियों को दबाता रहा.

कुछ मिनट के बाद मैंने उसके मुँह में ही वीर्य की धार छोड़ दी और एक रंडी की तरह वो मेरे वीर्य को गटक गई.
उसे वीर्य पीने में मजा आ रहा था इसलिए उसने मेरे लंड को चाट कर साफ कर दिया.

फिर मैंने उसकी चूत और गांड में उंगली करने लगा और वो मेरे सोए हुए लंड को दोबारा खड़ा करने के लिए मुँह में लेकर चूसने लगी.
उसके लगातार लंड चूसते रहने से मेरे लंड में फिर से तनाव आने लगा.

इधर मैंने उसकी चूत में उंगली करके उसकी चूत को एकदम गीली कर दी थी.

उसको पूरी चुदास चढ़ गई थी.
मेरा लंड भी उसे चोदने के लिए पूरा खड़ा हो चुका था.

रेणु कड़क लंड देख कर उठी और खड़ी होकर मेरे लंड पर अपनी चूत को सैट करके बैठ गई.
मेरा तना हुआ लंड उसकी गीली चूत को चीरता हुआ उसकी चूत में अन्दर तक समा गया.

वो कामुक सिसकारियां लेती हुई मेरे लंड पर कूदने लगी और मैं नीचे से अपनी गांड उठा उठा कर उसको चोदने लगा.

हमारी दोनों की काम वासना से भरी आवाजों से पूरे कमरे में मधुर संगीत गूंजने लगा.
वो जल्दी ही ऐंठने लगी और मैं समझ गया कि इसका रस छूटने वाला है.

मैंने उसकी चूत में लंड पेले हुए ही उसे नीचे गिराया और पलट कर उसके ऊपर चढ़ गया.
मिशनरी पोजीशन बनते ही मैंने फुल स्पीड में उसकी चुदाई शुरू कर दी.

उसने भी मजे से अपनी टांगें हवा में उठा लीं और चूत की चटनी बनवाने का मजा लेने लगी.
थोड़ी देर में ही वो झड़ कर निढाल हो गई, लेकिन मेरे लंड की स्पीड अभी भी टॉप गियर में थी.

मैं लगातार उसको झटके दे रहा था और कमरे में फच फ़च फचा फच की आवाजें गूंजने लगी थीं.
वो मदभरी सिसकारियां लेती हुई बोले जा रही थी- आह फाड़ दे मेरी चूत को … मैं प्यासी हूं … मेरी चूत की प्यास बुझा दे!

काफी देर की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद मैंने उसकी चूत को अपने लंड के वीर्य से भर दिया और उसके ऊपर ही पड़ा रहा.

उस रात के बाद हम रोज चुदाई करने लगे थे.
मैं रोज़ रेणु की चूत और गांड मारता और मेरी लुगाई पुलिस वाले से अपनी चूत और गांड मरवाती थी.

थोड़े दिन के बाद मेरी भी पोस्टिंग एमपी में हो गई और मेरी फैमिली मेरे गांव में चली गई.

उसके बाद जब भी मैं छुट्टी पर आता तो पहले सीधा हिसार रेणु के पास जाता था.
पूरी रात उसकी चूत का भोसड़ा बनाता था.
उसे भी लंड की भूख रहती थी.

मैंने उससे कई बार कहा भी कि मेरी गैरहाजिरी में किसी और का लंड सैट कर ले.
लेकिन वो मानती नहीं थी.
उसे मेरे लंड से मुहब्बत हो गई थी.

मेरी पोस्टिंग एमपी में होने के कारण मैं रोज रोज रेणु की चुदाई नहीं कर सकता था.

तो मेरे कई बार कहने पर उसने एक और ठोकू सैट कर लिया था.
उस मादरचोद ने रेणु को चोद चोद कर गर्भवती कर दिया.

रेणु ने मुझे फोन किया तो मैं आवश्यक छुट्टी लेकर उसके पास आया और डॉक्टर से दवाई दिला कर उसको बच्चे से निजात दिलाई.

अब तक उसके पति को भी पता चल गया था कि वो उसकी गैरहाजिरी में अपनी चूत और गांड मरवाती है.
उनकी आपस में बहुत लड़ाई होने लगी थी.

उधर रेणु के नए ठोकू ने भी रेणु को धोखा दे दिया था.

ये मुझे बाद में पता चला कि रेणु की चूत अब तक कई लंड खा चुकी थी; वो मुझसे मुहब्बत का झूठा ड्रामा करती थी.

उसके बाद से मुझे मुहब्बत नाम से चिढ़ हो गई और मैं सिर्फ चूत गांड चोदने में ही अपना मन लगाता था.

चूत रंडी की हो या किसी घरेलू औरत की हो. उसको लंड से मतलब होता है और लंड को सिर्फ चूत से मतलब होना चाहिए.
ये वफा और मुहब्बत की बातें सिर्फ चुतियापा हैं, ये मेरे दिमाग में बैठ गया था.

यह मेरी पहली सेक्स कहानी है, कुछ गलतियां हो सकती हैं. प्लीज़ मुझे माफ कर देना.
चीटिंग वाइफ Xxx कहानी पर आपके सुझावों को पढ़कर मैं आगे उन गलतियों को सुधारने की कोशिश भी करूंगा.
आपका अपना फौजी बलराम गोयत.

Video: जवान गर्म लड़की की चूत गांड चुदाई